📑 FILE INCOME TAX / GST RETURN ONLINE

India’s Most Valuable And Trusted Tax & Law Services

ITR Filing AY 2022-23 देर से आईटीआर फाइल करने पर 5 हजार रुपये तक का जुर्माना है. आप 5 हजार रुपये का जुर्माना देकर आज से 31 दिसंबर 2022 तक आईटीआर फाइल कर सकते हैं

You Can Contact Us For Below Mentioned Services. Your Work Will Be Done By Us Within Time Assured You.

➡️ GET GST Registration/Number
➡️ INCOME Tax Return (ITR)
➡️ GST Return
➡️ TDS Return
➡️ TDS Refund
➡️ TAX Saving Advice
➡️ UDYAM Registration
➡️ BUSINESS Registration Number (BRN)
➡️ PAN Card
➡️ Accounting
➡️ RENT Agreements
➡️ TALLY Works
➡️ COPYRIGHT REGISTRATION
➡️ TRADEMARK REGISTRATION
➡️ PERSONAL E-CA ADVICE

& EXCLUSIVE PREMIUM SERVICES

1. IPR (Trademark,  copyright,  design,  patents)

2. TESTAMENTARY ( succession certificate, legal heirship, probate of will , letters of administration)

3. Legal Metrology Certification

4. Gazette Name Change

आखिर इनकम टैक्स रिटर्न किन-किन कामों के लिए लाभदायक है और टैक्स के अलावा किन कामों में इसका फायदा होता है

आय प्रमाण पत्र का करता है काम

जी हां, इनकम टैक्स के जो असेसमेंट ऑर्डर का उपयोग एक वैलिड एड्रेस प्रूफ के रूप में काम करता है. इसमें जो लोग जॉब करते हैं उनके लिए फॉर्म 16 होता है और जो व्यापारी लोग होते हैं उनके लिए आईटीआर ही आय प्रमाण का काम करते हैं.

लोन में सबसे सहायक

जब भी आप लोन के लिए आवेदन करते हैं तो आपका सिबिल स्कोर और आईटीआर ही मायने रखता है. बैंक लोन देनेसे पहले आपके आईटीआर की जांच करते हैं और आईटीआर होने पर आपकी प्रोसेसिंग आसान हो जाती है और आपको आसानी से लोन मिल जाता है.

नुकसान हुआ तो काम की चीज है आईटीआर

ऐसा नहीं है कि आपको कमाई हो रही है तो ही आपको आईटीआर भरना चाहिए. अगर मान लीजिए आपको व्यापार में काफी नुकसान हो रहा है तो भी आपको आईटीआर की आवश्यकता होती है. दरअसल, आईटीआर के जरिए ही आप सरकार को बता पाते हैं कि उन्हें घाटा हुआ है, इसलिए हर स्थिति में इसकी आवश्यकता बढ़ जाती है.

वीजा में भी करता है काम

किसी व्यक्ति को वीजा जारी करने के लिए कई देश आईटीआर भी मांग लेते हैं. इससे वो व्यक्ति की आय आदि के बारे में पता लगाते हैं और उन्हें उस व्यक्ति का ट्रैक रिकॉर्ड भी पता रहता है. इसमें आप भले ही टैक्स देते हो या नहीं देते हो, लेकिन इससे आपकी क्रेडिबिलिटी दिखती है और आपको आसानी से वीजा मिलता है.

टैक्स रिफंड सबसे सामान्य

अगर कोई व्यक्ति आईटीआर फाइल करता है, तो वह टर्म डिपॉजिट जैसे इंस्ट्रूमेंट्स से होने वाली आय पर टैक्स (Tax) बचा सकता है. इसके जरिए आप अपनी आय के बारे में बताते हैं और टैक्स ब्रैकिट में आने पर भी टैक्स बचाया जा सकता है